पूर्वाभास (www.poorvabhas.in) पर आपका हार्दिक स्वागत है। 11 अक्टूबर 2010 को वरद चतुर्थी/ ललित पंचमी की पावन तिथि पर साहित्य, कला एवं संस्कृति की पत्रिका— पूर्वाभास की यात्रा इंटरनेट पर प्रारम्भ हुई थी। 2012 में पूर्वाभास को मिशीगन-अमेरिका स्थित 'द थिंक क्लब' द्वारा 'बुक ऑफ़ द यीअर अवार्ड' प्रदान किया गया। इस हेतु सुधी पाठकों और साथी रचनाकारों का ह्रदय से आभार।

शनिवार, 26 नवंबर 2022

संविधान दिवस पर शपथ समारोह


बरेली : शनिवार 26 नवम्बर 2022 को बीआईयू कॉलेज ऑफ़ ह्यूमनिटीज एण्ड जर्नलिज्म एवं बीआईयू कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट (बरेली इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी) में संयुक्त रूप से संविधान दिवस पर संविधान की प्रस्तावना की शपथ दिलाई गयी। 

बीबीए (फाइनेंस एण्ड टेक्सेशन) की छात्रा संस्कृति द्विवेदी ने सर्वप्रथम प्राचार्य डॉ अवनीश सिंह चौहान, सहायक आचार्य अतुल बाबू एवं अश्वनी प्रताप सिंह को मंच पर आमंत्रित किया। तदुपरांत संस्कृति द्विवेदी ने सभी उपस्थित जनों को संविधान की प्रस्तावना की शपथ दिलाई। इस अवसर पर डॉ अवनीश सिंह चौहान ने संविधान के निर्माताओं का पुण्य स्मरण करते हुए कहा, "आज पूरे देश में संविधान दिवस 'भारत - लोकतंत्र की जननी' के रूप में मनाया जा रहा है। भारत का संविधान विश्व का सबसे बड़ा संविधान है। यह संविधान 26 नवंबर 1949 को बनकर तैयार हुआ था। संविधान के बनने में 2 वर्ष 11 माह 18 दिन लगे थे।" 

गरिमा वर्मा, विष्णु गुप्ता, शिफा इंतज़ार, प्रियांशी गुप्ता, निमरा खान, शिखा यादव, अनम आफताब, बलराम बिष्ट, करिश्मा कनोजिया, आशी सक्सेना, फरहान अली, नूर फातिमा, सृष्टी शुक्ला आदि विद्यार्थियों ने बड़े मनोयोग से प्रतिभाग किया। 

कार्यक्रम के सफल आयोजन पर बरेली इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी की माननीया कुलपति डॉ लता अग्रवाल और कुलसचिव डॉ एस के  ठाकुर ने उक्त महाविद्यालयों के सभी छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों को बधाई एवं शुभकामनाएँ दीं। फोटोग्राफी का कार्य चमन बाबू ने किया। कार्यक्रम का समापन संयोजक मंडल - सहायक आचार्य अतुल बाबू एवं अश्वनी प्रताप सिंह, द्वारा धन्यवाद ज्ञापन से हुआ। 






 

Amrit Vichar, Bareilly, Page 5, Nov 22, 2022


प्रस्तुति: 
'वंदे ब्रज वसुंधरा' सूक्ति को आत्मसात कर जीवन जीने वाले वृंदावनवासी साहित्यकार डॉ अवनीश सिंह चौहान बरेली इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, बरेली के मानविकी एवं पत्रकारिता महाविद्यालय में प्रोफेसर और प्राचार्य के पद पर कार्यरत हैं।

Constitution Day: Pledge Taking Ceremony