पूर्वाभास पर आपका हार्दिक स्वागत है। 2012 में पूर्वाभास को मिशीगन-अमेरिका स्थित 'द थिंक क्लब' द्वारा 'बुक ऑफ़ द यीअर अवार्ड' प्रदान किया गया। 2014 में मेरे प्रथम नवगीत संग्रह 'टुकड़ा कागज का' को अभिव्यक्ति विश्वम् द्वारा 'नवांकुर पुरस्कार' एवं उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान, लखनऊ द्वारा 'हरिवंशराय बच्चन युवा गीतकार सम्मान' प्रदान किया गया। इस हेतु सुधी पाठकों और साथी रचनाकारों का ह्रदय से आभार।

सोमवार, 11 नवंबर 2013

विशेषांक: वीरेन्द्र आस्तिक पर एकाग्र


वरिष्ठ साहित्यकार श्री राम अधीर विगत 17 वर्षों से मासिक पत्रिका संकल्प रथ का संपादन कर रहे हैं। इन 17 वर्षों में उन्होंने लगभग 17-18 ख्यातनाम सहित्यकारों और लोकप्रिय रचनाकारों के विशेषांक निकाले। इन विशोषांकों का साहित्य जगत में, विशेषकर शोध संस्थानों में, विशेष महत्व रहा है। इसी श्रंखला में सितम्बर 2013 अंक वरिष्ठ गीतकवि एवं आलोचक वीरेन्द्र आस्तिक जी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर केन्द्रित किया गया है। नवगीत की नई रचनात्मक शक्तियों के रचनाकार होने के साथ-साथ श्री आस्तिक हिन्दी आलोचना के दायरे में गीत को समादृत करने तथा उसे मूल्यांकित करने वाली विचारधारा के अप्रितिम समीक्षक माने जाते हैं। विशेष बात यह है कि इस अंक में श्री नन्द चतुर्वेदी और श्री रंग जैसे कविता के क्षेत्र के समीक्षकों ने भी अपने बेबाक और तर्कसंगत विचार व्यक्त किये हैं। साथ ही डा. मधुसूदन साहा, डा. सुरेश गौतम, डा. उपेन्द्र, डा. सरिता, डा. संतोष कुमार तिवारी, डा. शांतिसुमन, डा. श्याम नारायण पाण्डेय, डा. वेद प्रकाश अमिताभ आदि के लेख भी अच्छे बन पड़े हैं। संपादन की दृष्टि से अब तक के विशेषांकों में यह अंक सर्वाधिक रोचक एवं पठनीय है, संपादक श्री राम अधीर का ऐसा मानना है। 

पत्रिका चर्चा

- डॉ. अवनीश सिंह चौहान

Visheshank: Virendra Astik Par Ekagra

1 टिप्पणी:

  1. बहुत सुंदर भावनायें और शब्द भी.बेह्तरीन अभिव्यक्ति!शुभकामनायें.
    आपका ब्लॉग देखा मैने और कुछ अपने विचारो से हमें भी अवगत करवाते रहिये.
    http://madan-saxena.blogspot.in/
    http://mmsaxena.blogspot.in/
    http://madanmohansaxena.blogspot.in/
    http://mmsaxena69.blogspot.in/

    उत्तर देंहटाएं

आपकी प्रतिक्रियाएँ हमारा संबल: