पूर्वाभास पर आपका हार्दिक स्वागत है। 2012 में पूर्वाभास को मिशीगन-अमेरिका स्थित 'द थिंक क्लब' द्वारा 'बुक ऑफ़ द यीअर अवार्ड' प्रदान किया गया। 2014 में मेरे प्रथम नवगीत संग्रह 'टुकड़ा कागज का' को अभिव्यक्ति विश्वम् द्वारा 'नवांकुर पुरस्कार' एवं उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान, लखनऊ द्वारा 'हरिवंशराय बच्चन युवा गीतकार सम्मान' प्रदान किया गया। इस हेतु सुधी पाठकों और साथी रचनाकारों का ह्रदय से आभार।

शुक्रवार, 8 अक्तूबर 2021

मध्य प्रदेश में संस्कृत पढ़ाएँगी डॉ प्रियंका


गुरुवार  (7 अक्टूबर) के दिन डॉ प्रियंका को ग्वालियर संभाग के एक गवर्नमेंट गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल में संस्कृत शिक्षक (वर्ग एक) पद पर नियुक्ति मिल गयी।
 
डॉ प्रियंका ने मध्य प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित परीक्षा (2019) में ग्वालियर संभाग में महिला वर्ग में प्रथम स्थान प्राप्त किया था। हाईस्कूल और इंटरमीडिएट प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण कर इन्होंने इंस्टीट्यूट ऑफ ओरिएंटल फिलॉसफी (आईओपी), वृन्दावन, मथुरा (उत्तर प्रदेश) से बी.ए. और एम.ए. की पढ़ाई की। बी.ए. और एम.ए. (संस्कृत) में कॉलेज में प्रथम स्थान और एम.ए. में डॉ॰ भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय, आगरा (उत्तर प्रदेश) में 'टॉप टेन' में रहीं डॉ प्रियंका ने एमफिल और पीएचडी की उपाधियाँ देवी अहिल्या विश्वविद्यालय, इंदौर (मध्य प्रदेश) से प्राप्त कीं। इन्होंने एमफिल में विश्वविद्यालय में तृतीय स्थान प्राप्त किया था। 

डॉ प्रियंका ने संस्कृत शिक्षक हेतु आयोजित एक और परीक्षा कुछ वर्ष पहले भी उत्तीर्ण की थी, किन्तु उस समय जीवाजीराव विश्वविद्यालय, ग्वालियर से इनकी बीएड कंप्लीट नहीं हो पाई थी, अतः इनकी नियुक्ति नहीं हो सकी। इनकी एक पुस्तक- "वैदिक वाड्मय में विज्ञान और प्रौद्योगिकी" (प्रकाश बुक डिपो, बरेली) प्रकाशित हो चुकी है। हिंदी साहित्य पर इनके समीक्षात्मक लेख- 'कैलाश गौतम स्मृति अंक' (नये-पुराने, 2007), 'बुद्धिनाथ मिश्र की रचनाधर्मिता' (2013) आदि में प्रकाशित हो चुके हैं। 

इस अवसर पर डॉ प्रियंका को पिता श्री प्रह्लाद सिंह चौहान, माता श्रीमती उमा चौहान, पति श्री गौरव सिंह राजावत, देवर श्री सौरभ राजावत, सास-ससुरजी, छोटे भाई आचार्य शिवम, दादा अवनीश सिंह चौहान, भाभी नीरज, छोटी बहन दीपिका, परिवार के अन्य सदस्यों और गुरुजनों ने बधाई एवं शुभकामनाएं दीं।
...
डॉ प्रियंका की पुस्तक एमाज़ॉन पर उपलब्ध है : https://www.amazon.in/Vedic-Wandmaya-vigyan-prodhogiki-Hindi/dp/8179774430
...
उक्त पुस्तक की समीक्षा : http://www.poorvabhas.in/2021/09/blog-post.html?m=1
...
अमृत विचार, बरेली, पृष्ठ 7, अक्टूबर 08, 2021 


Dr Priyanka Chauhan, Sanskrit

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी प्रतिक्रियाएँ हमारा संबल: