पूर्वाभास पर आपका हार्दिक स्वागत है। 2012 में पूर्वाभास को मिशीगन-अमेरिका स्थित 'द थिंक क्लब' द्वारा 'बुक ऑफ़ द यीअर अवार्ड' प्रदान किया गया। 2014 में मेरे प्रथम नवगीत संग्रह 'टुकड़ा कागज का' को अभिव्यक्ति विश्वम् द्वारा 'नवांकुर पुरस्कार' एवं उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान, लखनऊ द्वारा 'हरिवंशराय बच्चन युवा गीतकार सम्मान' प्रदान किया गया। इस हेतु सुधी पाठकों और साथी रचनाकारों का ह्रदय से आभार।

रविवार, 30 सितंबर 2012

कैनेडा से प्रकाशित 'हिन्‍दी चेतना' का 'लघुकथा विशेषांक'


श्री श्‍याम त्रिपाठी जी के संपादन में कैनेडा से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका 'हिन्‍दी चेतना' (सम्पादक: सुधा ओम ढींगरा जी) का अक्‍टूबर-दिसम्‍बर अंक 'लघुकथा विशेषांक' प्रकाशित हो चुका है। इस अंक में सौ से अधिक लघुकथाएं संकलित की गईं हैं। अतिथि सम्‍पादक द्वय श्री रामेश्‍वर काम्‍बोज 'हिमांशु' तथा श्री सुकेश साहनी द्वारा सम्‍पादित यह अंक पठनीय तो है ही संग्रहणीय भी है। आधारशिला, अविस्‍मरणीय, नई ज़मीन, सम्‍पदा, स्‍वागतम् और मेरी पसंद स्‍तंभों के अंतर्गत प्रेमचंद, उपेंद्रनाथ अश्‍क, हरिशंकर परसाई, शरद जोशी, राजेंद्र यादव, रघुबीर सहाय, चेखव, काफ्का, चार्ली चैपलिन, असगर वजाहत, आनंद हर्षुल, चित्रा मुद्गल, उदय प्रकाश सहित सौ से भी अधिक कहानीकारों की लघुकथाएं। लघुकथा को लेकर डॉ श्‍यामसुंदर दीप्ति, डॉ सतीशराज पुष्‍करणा,श्‍याम सुंदर अग्रवाल, सुभाष नीरव, डॉ सतीश दुबे, भगीरथ की विशेष परिचर्चा। लघुकथा की सृजनात्‍मक प्रक्रिया पर श्री काम्‍बोज का विशेष लेख। लघुकथा पर एक समग्रदस्‍तावेज। साथ में पुस्तक समीक्षा, साहित्यिक समाचार, चित्र काव्यशाला, विलोम चित्र काव्यशाला और आख़िरी पन्ना। यह लघुकथा विशेषांक अब ऑनलाइन भी उपलब्‍ध है,पढ़ने के लिये नीचे दिये गए लिंक पर जाएं। 


ऑन लाइन पढ़ें


डाउनलोड करें


वेबसाइट से डाउनलोड करें


ब्‍लाग पर


Hindi Chetana ka Laghukatha Visheshank

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी प्रतिक्रियाएँ हमारा संबल: